×

मध्यम और प्रीमियम श्रेणी के घर खरीदारों  की पहली पसंद

Torbit - October 13, 2023 - - 0 |
Madhyaam or premium category ke ghar kharidaro ki pehli pasand

टॉरबिट त्योहारी घर खरीदारी रुझान 

पिछले एक साल से भी अधिक समय में प्रॉपर्टी की बढ़ती कीमतों और होम लोन पर ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी के बावजूद, इस त्योहारी सीजन में, मध्यम और प्रीमियम श्रेणी की प्रॉपर्टी घर खरीदारों की पहली पसंद बने हुए हैं और इस वजह से इनकी मांग अधिक है। एनारॉक कंज्यूमर सेंटीमेंट सर्वे (एच1 2023) के अनुसार, 59% संभावित घर खरीदारों ने 45 लाख रुपये से 1.5 करोड़ रुपये के बीच की कीमत वाले मिड-रेंज और प्रीमियम घरों को अपनी पहली पसंद बताया है। यह एच12020 में किए गए इस बजट श्रेणी में घरों के लिए सेंटिमेंट में सर्वेक्षण की तुलना में 10% की वृद्धि है।

इस सर्वेक्षण से पता चलता है कि 45-90 लाख रुपये के बीच की कीमत वाले घर सबसे पसंदीदा हैं क्योंकि 35% संभावित घर खरीदार इसी श्रेणी के घर खरीदना चाहते हैं, जबकि 24% घर खरीदने के इच्छुक लोग 90 लाख रुपये से 1.5 करोड़ रुपये के बीच की कीमत वाले घर पसंद करते हैं। .

एनारॉक के चेयरमैन अनुज पुरी के अनुसार, “बड़े घरों की मांग में कोई बदलाव नहीं है और मौजूदा सेंटिमेंट सर्वे में 3बीएचके ने एक बार फिर 2बीएचके घरों को पीछे छोड़ दिया है। लगभग 48% प्रोपर्टी खरीदने के इच्छुक अन्य कॉन्फ़िगरेशन की तुलना में 3 बीएचके पसंद करते हैं, जबकि 39% अभी भी 2बीएचके यूनिट्स पसंद करते हैं। यदि हम एच1 2022 सर्वेक्षण से तुलना करें, तो हम पाते हैं कि 3 बीएचके की मांग लगातार बढ़ रही है – जहां एच1 2022 में लगभग 41% संभावित घर खरीदार थे वहीं 2023 की पहली छमाही में लगभग 48%। महामारी के बाद जीवन सामान्य होने के बावजूद बड़े घर ग्राहकों की शीर्ष पसंद बने हुए हैं।

शीर्ष शहरों में, 3बीएचके की मांग विशेष रूप से बैंगलोर (51%), चेन्नई (50%), दिल्ली-एनसीआर (47%) और पुणे (45%) में अधिक है, जहां अधिकांश घर खरीदने के इच्छुक 3 बीएचके पसंद करते हैं। कोलकाता में (52%) , एमएमआर (41%), और हैदराबाद (47%), घर के इच्छुक लोग 2बीएचके पसंद करते हैं।

सर्वेक्षण में विभिन्न शहरों में तैयार संपत्तियों और नए लॉन्च के बीच मांग में एक उल्लेखनीय बदलाव पर भी प्रकाश डाला गया है। वर्ष 2023 की पहली छमाही में, तैयार घरों और नए लॉन्च का मांग अनुपात 28:27 है, जो कि 2020 की पहली छमाही की तुलना में एक महत्वपूर्ण अंतर में कमी को दर्शाता है, जब अनुपात 46:18 था। इस बदलाव का एक प्रमुख कारण बड़े और लिस्टेड डेवलपर्स द्वारा नई आपूर्ति में वृद्धि है। पुरी के अनुसार, इन स्थापित कंपनियों ने  प्रोजेक्ट की समय पर डिलीवरी करने की वजह से संभावित घर खरीदारों के बीच विश्वास अर्जित कर लिया है।

उच्च मुद्रास्फीति ने एच1 2023 सर्वेक्षण में 66% से अधिक उत्तरदाताओं की डिस्पोजेबल आय को प्रभावित किया है, जबकि एच1 2022 सर्वेक्षण में यह आंकड़ा 61% था, जो व्यक्तियों और परिवारों पर बढ़ते वित्तीय तनाव का संकेत देता है। हालांकि शहरों में आवास की बिक्री पर इसका असर दिखना अभी बाकी है। होम लोन की दर में किसी भी तरह की और बढ़ोतरी से घरों की  बिक्री में कमी आएगी। इसी तरह, इस सर्वेक्षण में 98% उत्तरदाताओं के अनुसार अगर होम लोन की ब्याज दरें 9.5% के स्तर को पार करती हैं तो घरों की बिक्री पर इसका ‘उच्च प्रभाव’ पड़ेगा।

जहां तक एफोर्डेबल घरों की मांग का सवाल है तो इस सर्वेक्षण के मौजूदा सस्करण से पता चलता है कि यह और कम होकर केवल 25% रह गई है। साथ ही 40 लाख रुपये से कम कीमत वाले घरों की मांग में लगातार गिरावट देखी गई है – 2020 की दूसरी छमाही में यह 40% से 2022 की पहली छमाही में 28% और 2023 की पहली छमाही में 25% तक कम हो गई। मुद्रास्फीति और आर्थिक मंदी ने इस लक्षित वर्ग को सबसे अधिक प्रभावित किया है, जिसके कारण उन्होंने ‘प्रतीक्षा करो और फिर निर्णय करो’ दृष्टिकोण अपना रखा है।

होम लोन की दरें लगभग 9.15% की औसत दर पर स्थिर रहने से, घर खरीदने के लिए सेंटिमेंट उच्च स्तर पर है। हालाँकि, 98% घर खरीदने के इच्छुकों को लगता है कि अगर होम लोन दरें 9.5% से अधिक हो जाती हैं, तो यह उनके घर  खरीदने संबंधी निर्णयों पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालेगा। वहीं 60% से अधिक सर्वेक्षण में शामिल उत्तरदाताओं के लिए रियल एस्टेट सबसे पसंदीदा निवेश परिसंपत्ति वर्ग है, जो पिछले सर्वेक्षण के मुकाबले 3% अधिक है। कम से कम 52% मिलेनियल्स और 35% जेन-एक्स उत्तरदाता भविष्य में घर खरीदने के लिए अन्य परिसंपत्ति वर्गों से अपने निवेश के द्वारा अर्जित लाभ का उपयोग करेंगे।

सबसे अधिक  अंतिम उपयोगकर्ता हाउसिंग सेंटिमेंट को बढ़ाएंगे वहीं इस सर्वेक्षण के अनुसार 67% संभावित घर खरीदार स्वयं के लिए प्रोपर्टी खरीदने का इरादा रखते हैं जो कि एक अपेक्षित प्रवृत्ति है क्योंकि घर का मालिक होना अनिश्चित आर्थिक माहौल में सुरक्षा प्रदान करता है। एच1 2023 में  मुख्य शहर के आस-पास स्थित प्रोपर्टीज की  मांग घटकर 39% हो गई है, जबकि एच1 2021 सेंटिमेंट सर्वेक्षण में यह 45% थी। शहर के आस-पास घर खरीदने के लिए अपनी प्राथमिकता दिखाने वालों में से अधिकांश (61%) निवेशक हैं, जबकि सिर्फ 39% अंतिम-उपयोगकर्ता हैं।

Leave a Reply

TRENDING

1

Tech Intervention Transforming Real Estate

Dileep PG - February 23, 2024

2

Realty Foreseen 2024

Sanjeev Kathuria - February 11, 2024

3

Why Organizations Select Hybrid Data Centres

Jaganathan Chelliah - January 27, 2024

4

5

6

    Join our mailing list to keep up to date with breaking news